SEO क्या है और ब्लॉग में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते है?

What is SEO in Hindi: आप अभी का एक बार फिर से स्वागत है. आज की इस पोस्ट में आप सभी को SEO क्या है और ब्लॉग में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते है की पूरी जानकारी दिया जायेगा. क्या आपसे पास भी एक ब्लॉग वेबसाइट है और आप अपनी वेबसाइट को google के first page पर रैंक करवाना चाहते है.

क्योंकि आज हम बताने वाले है कि कोई भी Blog Google के First Page पर कैसे Rank करता है और एसईओ क्या है साथ में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते है. आइए शुरू से जानते है कि Site को कैसे Rank किया जाता है.

SEO क्या है और ब्लॉग में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते है?

यदि आप इस पोस्ट को read कर रहे है तो ये कंफर्म है कि आप भी एक Blogger होंगे जो अपनी ब्लॉग को रैंक करने के ये एसईओ की जानकारी लेने आये है.

क्योंकि आजकल लोग ब्लॉग तो बना लेटव है और उसके बाद उसपर काम भी करते है परंतु फिर भी कामयाबी नही मिलती है. वो इसलिए कि नए Blogger को एसईओ के बारे में ज्यादा जानकारी नही होती है.

खासकर के नए Blogger इस चीज के बारे में नही जानते है कि हमें Blog या Website को rank करने के लिए क्या करना होता है और What is SEO in Hindi क्या होता है. आप सभी को आज की हम खासकर नए blogger को ये जानकारी ज्यादा फायदे पहुँचायेगी और सभी लोगों को SEO आसान लगने लगेगा.

किसी भी Blog/Website को rank करने के लिए सबसे जो जरूरी और most important seo की infornation की जरूरत होती है. क्योंकि SEO के बिना कोई भी चीज आसान नही होती है. दोस्तों एसईओ के बिना सीखे आप ब्लॉग वेबसाइट तो बड़ी अच्छी तरह से बना लेंगे.

लेकिन आप खुद सोचिए कि ऐसे Site Create करके क्या फायदा होता है जो कभी rank ही न करें. आज हम एसईओ सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की जानकारी को आगे बढ़ाते और सीखते है एसईओ की जानकारी हिंदी में.

SEO क्या है?

Google, Yahoo, और Bing में जो Top 10 Result show होती है उसे rank किया गया website या post कहते है, और rank कराने की process को SEO (Search Engine Optimization) कहते है.

एसईओ करने से ब्लॉग वेबसाइट google के top position में दिखता है और लोग जब Internet पर सर्च करते है तो जिस website में एसईओ अच्छा से किया जाता है वो No.1 में rank करता है. आप सभी को ये तो पता ही होगा कि जो Result Google के Top में Show होता है हम उसपर ही क्लिक करते है. जिससे बाकी जो उसके बाद आती है उस पर हम जल्दी क्लिक नही करते है.

ये तो 100% right है कि जो No.1 पर rank करता है लोग उसी को क्लिक करते है लेकिन आपको बता दे कि Google के First Page पर rank करना भी अच्छा माना जाता है. क्योंकि अब तो सभी की पोस्ट Google Search Engine में No.1 में तो rank नही कर सकता है.

Visitor गूगल पर Keyword के माध्यम से आता है और हमें Keyword rank की करवाना होता है. यदि कोई Website की कुछ Keyword Google Result की टॉप पेजों में दिखाई देता है तो उसे उस website की Rank किया गया page कहते है.

जैसे कि अभी आप जो मेरा Blog Mehar Tech Hindi को read कर रहे है वो अगर गूगल में नही रांकि मरता तो आप यहाँ तक पहुँच ही नही पाते. आगे हम बात करेंगे कि एसईओ करने के लिए क्या करना होता है.

Blog में SEO करने के लिए क्या सीखना चाहिए?

किसी भी Website को rank करने के लिए SEO की Full Infirmation जानना जरूरी होता है. जैसे कि आपको SEO Guide करने वाले से सीखना होता या आप YouTube से भी कुछ अच्छा सिख सकते है.

हम YouTube पर एसईओ के बारे में अच्छी खासी जानकारी को ले सकते है और अपनी Blog Traffic Increase कर संते है ताकि हमें Online earning में कुछ फायदा मिल सके.

हमें Blog को rank करने अथवा एसईओ की जानकारी के लिए सबसे पहले एक अच्छा Blog बनाना पड़ता है. Blog बनाने से पहले ही आपको के Conform कर लेना है कि आप किस Cetegory पर पोस्ट लिख सकते है या लिखना चाहते है.

क्योंकि बहुत सारे Blogger जब Blogger पर आते है और अपनी Blogging Journey Start करते है. लेकिन बाद में अलग-अलग केटेगरी पर Blog लिखने लगते है जिससे ब्लॉग जल्दी rank नही होता है.

SEO का फुल फॉर्म क्या होता है?

SEO का फुल फॉर्म सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search Engine Optimization) होता है.

उम्मीद है आपको SEO एसईओ की क्या काम होता है और एसईओ Blogging में कितना important होता है इसकी जानकारी मिल गयी होगी. अब आपको भी What is एसईओ और SEO Guide की थोड़ी बहुत tips मिल गयी होगी आगे हम और भी ज्यादा सीखने की प्रयास करेंगे.

क्योंकि यदि ब्लॉगिंग में कैरियर बनाना है तो सभी चीजो को अच्छा से समझना होता है ताकि आप अपनी साइट में सभी जानकारी के साथ ही Setup करें ताकि बहुत कम समय मे ब्लॉगिंग में अपना पैर जमा सके. आज ब्लॉगिंग आम हो चुकी है सभी लोग ब्लॉग बनाकर अपनी अपनी इंटरनेट पर आ चुके है.

उससे अच्छे Blogger को घबराने की कोई जरूरत नही है. क्योंकि जो अच्छा Blogger है वो कुछ न कुछ तो कर ही लेगा. और जो नए Blogger होगा वो अगर ब्लॉगिंग में सक्षम होगा तो सही है नही तो फिर ब्लॉगिंग को छोड़ने के अलावा और दूसरा कोई चारा नही है.

माना की जो ऐसे ही फालतू में ब्लॉगिंग करने आये है जिसको ब्लॉगिंग में जरा सा भी मन नही है वो भी एक ब्लॉग बना लिए है. क्योंकि सभी को अपनी पहचान बनाने का शौक रहता है. में हमेशा नए ब्लॉगर को सही राह दिखाऊंगा क्योंकि मैं किसी के खिलाफ नही हूँ जिसको जो Skills आती है वो अपना काम करते रहे है.

सफलता न सही कुछ सिख तो रहे है न. चलिए अब आगे हम बात करते है कि एसईओ कितने प्रकार के होते है. अब शुरू से हम एसईओ के बारे में जानकारी देने वाले है.

SEO कितने प्रकार के होते है? Types of SEO

आप सभी को सबसे पहले तो ये फिर से बता दु की एसईओ क्या है और कैसे करते है. एसईओ वो कार्य है जो हम अपनी ब्लॉग पोस्ट को गूगल की सबसे ऊपर में दिखाने के लिए करते है एसईओ कहलाता है. एसईओ के बहुत सारे फैक्टर है और सभी फैक्टर को सही से करने पर ही Website या Blog Google के First Page पर Rank करता है.

SEO 4 प्रकार के होते है लेकिन हम सिर्फ 3 या दो प्रकार के एसईओ के बारे में जानते है या पढ़ते है. क्योंकि हमें जिस एसईओ की काम होती है हम उसे ही पढ़ेंगे ज्यादा जानने की आवश्यकता ही नही पड़ती है.

1. Technical SEO

2. Off-Page SEO

3. On-Page SEO

4. Local SEO

क्योंकि हमें सिर्फ दो प्रकार की SEO के बारे में जानकर ही ब्लॉग को रैंक करते है इसलिए हम सिर्फ दो प्रकार की SEO के बारे में आज जानेंगे पहले On Page SEO और Off Page SEO.

Technical SEO के जानकारी ब्लॉग के लिए कोई ज्यादा जरूरी नही है. साथ ही Local SEO के बारे में जानना भी कोई ज्यादा जरूरी नही है. क्योंकि Local SEO का इस्तेमाल जब हम अपने आसपास के लोगो को ही अपनी सर्विस को देना होता तभी किया जाता है.

लेकिन ब्लॉगिंग तो इस प्रकार की Service नही है कि हम सिर्फ अपने नजदीकी लोगों को ही दे. हम ब्लॉगिंग सभी लोगों तक जानकारी पहुचाने के लिए करते है.

लेकिन जब हम किसी Shop, बिजनेस, सर्विस देते है तो हमें लोकल SEO की जरूरत होती है. Local SEO हम अलग seprate post में बताएंगे.

Technical SEO क्या है?

अब हम आगे बढ़ते है और सबसे पहले बात करते जो पहले करना होता है. जब हम ब्लॉग को बनाते है तब ही हमे Off Page SEO करना होता है. अब हम सीखेंगे की Off Page SEO क्या है What is Off Page SEO In Hindi.

Off Page SEO क्या होता है?

इस प्रकार की SEO में हमें अपनी वेबसाइट की बैकलिंक और अनेक ऐसे वेबसाइट पर ब्लॉग को सबमिट करना होता जहाँ से हमारी ब्लॉग को लोगो तक पहुँचाया जा सके. तभी एक अच्छा Content लिखने पर हमें रैंक मिलती है यदि हम अच्छा कंटेंट लिखकर कोई फायदा नही होगी जब हम आपकी ब्लॉग लोगो तक न पहुँचे. आइए अब एक एक करके Off Page SEO के बारे में जानते है.

1. Backlink Create करें

बैकलिंक ब्लॉग को रैंक करने के लिए अच्छा तरीका माना जाता है. क्योंकि हमें जब High DA PA वाली साइट से Backlink मिलती है तो हमारी भी DA और PA Increase होता है. हमें Backlink ऐसे साइट से बनाना चाहिए जो अच्छा हो.

2. Directory Submissions में सबमिट करें

बहुत सारी अच्छी और फ्री की डायरेक्टरी सबमिशन है जहाँ सबमिट करने से आपकी ब्लॉग सारे सर्च इंजन में सबमिट हो जायेगी. ऐसे साइट को अपनी ब्लॉग को सबमिट करें.

3. सोशल मीडिया पर शेयर करें

अपनी ब्लॉग के लिए सभी सोशल मीडिया पर एक पेज या एकाउंट बनाये. जहाँ अपनी ब्लॉग पोस्ट को शेयर कर सके और कुछ ट्रैफिक अपनी साइट पर ला सके.

On Page SEO क्या होता है What is On-Page SEO

वे सभी SEO जो हम blog post को write करने के ये करते है On page SEO कहते है. ऑन पेज एसईओ को करने के लिए नीचे दिए गए सभी बिंदुओं पर गौर करें.

1. क्वालिटी कंटेंट लिखें

जब हम Blog Post को लिखते है तो हमे पहले Keyword Research करना बहुत जरूरी होता है. क्योंकि अगर आप बिना कीवर्ड रिसर्च के ही आर्टिकल लिखेंगे तो कोई फायदा नही होने वाली है. बिना Keyword रीसर्च के 20000 वर्ड की भी आर्टिकल लिखेंगे फिर भी रैंक होने की संभावना नही रहती है. इसलिए हमेशा क्वालिटी कंटेंट लिखे.

2. Heading का Use सही से करें

जैसा कि आपके पता होगा कि Blog Post के लिए heading tag को सही से manage करना बहुत ज्यादा जरूरी होता है. क्योंकि heading से ही Google को पता चलता है कि आपको web page में क्या है. आपको ये भी बता दु की आप अपनी Blog Post में एक H1 Heading का इस्तेमाल करें. उसके बाद बाकी सभी H2 से H6 तक हम ज्यादा से ज्यादा 10 Heading का इस्तेमाल करें. जैसे कि यदि आप H2 को Use करना चहत्व है तो H2 को 10 Times से ज्यादा न दे.

3. Image को ऑप्टिमाइज़ करें

अपनी ब्लॉग Post में किसी न किसी Media का Use जरूर करें ताकि आपकी search result में कही अच्छा स्कोर gain कर सके. Image को एक न एक जरूर use करें और साथ ही Image में Alt Tage को देना कभी भी न भूले.

पैसे कमाने वाली एप्प के बारे में पूरी जानकरी हिन्दी में
Instagram से पैसे कैसे कमाए हिंदी में
तुरंत रिलीज हुई movies कैसे download करे
Like App से पैसे कैसे कमाए हिंदी में
TikTok से पैसे कैसे कमाए हिंदी में जानिए
10000 के अंदर सबसे बेस्ट स्मार्टफोन कौन सा है?

अगर मुमकिन हो तो Video का उपयोग जरूर करें नही है तो भी कोई बात नही.

4. Internal Linking करें

Blog Post को लिखने के बाद अपनी पिछली पोस्ट की लिंक को प्रेजेंट के पोस्ट के साथ लिंक करें यदि वो एक ही टॉपिक पर हो तो अच्छा बात है.

4. External Linking करें

Blog Post को पब्लिश करने से पहले कुछ बाहरी लिंक जो आपके Content से मिलता हो उसे जरूर लिंक करें. ये SEO के लिए अच्छा माना जाता है.

5. URL को सही से लिखें

जब हम पोस्ट को पब्लिश करते है तो उससे पहले यूआरएल को चेक करना बहुत जरूरी होता है. ये SEO के लिए बहुत जरूरी होता है. SEO Friendly URL को Use करना चाहिए.

6. Title और Description को सही से लिखें

ब्लॉग पोस्ट को लिखने के बाद Post में Description सही से लिखे और Description को 150 से 160 Character में लिखने की कोशिश करें. साथ ही टाइटल को सही से लिखे ज्यादा छोटा और ज्यादा लंबा title न लिखें. क्योंकि Title और Description On Page SEO में बहुत ज्यादा जरूरी है.

Your Opinion

आपको इस आर्टिकल से क्या सीखने को मिला है जिसमें आपको SEO क्या है – What is SEO in Hindi में बताया गया है. यदि एसईओ से संबंधित कुछ और सवाल है तो जरूर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here