Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen | पंडित को काबू में कैसे करें {दम है तो क्लिक करो}

पंडित को काबू में कैसे करें : जैसा की आप सभी को पता होगा कि भारत में सबसे ज्यादा वॉल्यूम भारत में सबसे ज्यादा मान्यता क्यों पंडित ब्राह्मण को ही दिया जाता है। और लोग इंटरनेट पर पंडित को काबू करने के बात करते हैं। इसलिए आज की पोस्ट में हम लोग जानने वाले हैं कि Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen क्योंकि आजकल इंटरनेट पर इस संबंध में बहुत सारे प्रश्न पूछे जा रहे हैं।

जैसा की आप सभी को पता होगा कि भारत तथा दुनिया के सभी देशों में जहां पर हिंदू कहते हैं वहां पर अपनी शुभ कार्य कराने के लिए हमेशा पंडितों को बुलाया जाता है और उन्हीं से ही पूजा करा जाता है। ऐसे में पंडितों के बारे में इस तरह का सवाल जवाब करने गूगल पर काफी ज्यादा निराशा साबित करता है। आपको बता दें कि कोई भी किसी को काबू करने के बारे में नहीं सोचना चाहिए और खासकर गूगल पर तो इस तरह के सवाल बिल्कुल भी सच नहीं करनी चाहिए।

आज की इस आर्टिकल में हम लोग पंडित को काबू में कैसे करें तथा इससे संबंधित और भी बहुत सारे प्रश्नों का जवाब जानने वाले हैं जैसे कि Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen Google, Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen, पंडित को काबू में कैसे करें, Brahman Ko Kabu Mein Kaise Karen, Ko Kabu Me Kaise Karen, Pandit Ko Kabu Kaise Kare, पंडित को काबू कैसे करें, Pandit Ko Kaise Kabu Kare तथा पंडित को कैसे काबू करें के बारे में पुण्य जानकारी दिया जाएगा।

साथ ही आपको यह भी बता दें कि पंडित को काबू करने के तरीके एवं के बारे में बहुत सारी जानकारी आज की पोस्ट में दिया जाएगा अगर आपको सही में पंडित जी को मेरा मतलब है कि मेरा मन पढ़ने को काबू करने के बारे में सोच रहे हैं तो इसलिए उसको आपको जरूर पूरा पढ़ना चाहिए।

पंडित को काबू में कैसे करें?

Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen
पंडित को काबू में कैसे करें

पंडित को काबू करने के बारे में आजकल इंटरनेट पर बहुत सारे सवाल जवाब होते हैं देख रहे हैं। आप सभी को पता होगा कि इंटरनेट का इतना दुरुपयोग सिर्फ जिओ के बहुत ज्यादा डाटा देने के कारण हो रहा है। अगर कोई कंपनी इसी तरह फ्री में डाटा देगा तो लोगों को डाटा के प्रति कोई मोल नहीं नजर आए और वह डाटा को आलतू फालतू चीजों के लिए इस्तेमाल करता नजर आएगा।

हालांकि आपको पता नहीं कि कुछ चीजें बहुत ज्यादा अच्छी होती है उसके साथ साथ हमें कुछ बुरी आदतें भी होती है। अगर जिओ ने संस्थान डाटा प्रोवाइड किया है तो आजा होने के कारण है पूरे भारत में इतनी ज्यादा इंटरनेट टेक्नोलॉजी की फिल्में क्रांति आई है। लेकिन कुछ लोगों ने इन्हें अपनी जिंदगी के लिए नर्क बना कर रखा है और वह डाटा को गलत गलत कामों में इस्तेमाल करते हैं। जो लोग अपने डाटा को गलत काम को इस्तेमाल करते हैं वही लोग गूगल पर इस तरह के सवाल जवाब करते नजर आते हैं।

अगर नहीं तो लोगों को इतनी फुर्सत कहां है कि वह किसी को काबू करने के बारे में सोचें भी। बात यहां ब्राह्मण पंडित को काबू करने के बारे में चल रही है तो आपको बता दें कि ब्राह्मण पंडितों को काबू करना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। अगर आपने गलती से भी हमारा मन पंडितों को यह पंडित को काबू करने के बारे में सोचा तो आपकी खैर नहीं होगी।

दोस्तों आए दिन इंटरनेट पर कभी गूगल को काबू करने के बारे में तो कभी हिंदुओं को काबू करने के बारे में तो कभी मुसलमानों को काबू करने के बारे में तो कभी पब्जी वालों को काबू में करें तो कभी इंडियन आर्मी को काबू में कैसे करें इस तरह के सवाल इंटरनेट पर तभी ज्यादा प्रचलित है आज के समय में। और आप भी इंटरनेट पर इस तरह के सवाल करते हैं तो आपके लिए सोचने वाली बात हो गई कि आप किसी एक समुदाय या किसी एक संस्था या किसी एक धर्म को काबू करने के बारे में सोच कर उन्हें बहुत ज्यादा तकलीफ पहुंचा रहे हैं।

Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen तथा पंडित को काबू करने के तरीके की शॉर्टकट में आज हम लोग पंडित को कम करने के तरह-तरह तरीकों के बारे में जानेंगे। लेकिन हमारा आर्टिकल लिखने का मकसद यह नहीं है कि हमें ऐसा तरीका बताना है कि जिसे पंडितों या किसी भी समुदाय को काबू में किया जा सकता है। हमें उन चीजों के बारे में अच्छी-अच्छी बातें बता रहा हूं तक इंटरनेट पर कोई भी भी कोई इस तरह के सवाल जवाब पोस्ट ना करें और ना ही किसी खास समुदाय के लोगों को यह तो ब्राह्मण को ठेस ना पहुंचाएं।

अगर आपने गूगल पर इस तरह के सवाल कर ही लिया है तो जवाब भी सुनते सुनते जाइएगा। लोगों के बातें करना और लोगों के चरित्र के बारे में उनके मात्र बोलने से ही पता चल जाता है और आप लोग इस तरह के बाद सवाल करोगे तो आपके चरित्र के बारे में पता चल जाएगा लोगों को। क्योंकि ब्राह्मण पंडित समाज पूरे भारत में सबसे ज्यादा महत्व और होने ज्यादा मान सम्मान दिया जाता है। ऐसे में गोल पर इस तरह का सवाल जवाब करना काफी ज्यादा निराशा साबित करता है और वह हम लोगों को बहुत ज्यादा खराब लगता होगा पढ़ने में।

Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen

Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen कि इस लेख में हम लोग जानने वाले हैं कि हमें पंडितों से मित्रता और उसे काम वह किस प्रकार कर सकते हैं जिसकी जानकारी हम नीचे निम्नलिखित तरीकों में दे रहे हैं। उम्मीद है कि जो लोग पंडितों को काबू में करना चाहते हैं यह तो जो लोग ब्राह्मण पंडितों को काबू में करना चाहते हैं तो उनके लिए उम्मीद है या लेख बहुत ज्यादा कारगर साबित हो सकता है। और किसी पंडितों का होगा नहीं तो नीचे दिए गए सभी तरीकों को अपनाएं और पंडित को काबू में करें।

1. पंडित को मान सम्मान दें

इस दुनिया का नियम है कि हम जिसे सम्मान देंगे वह भी हमारे लिए उतना ही सम्मान देने का कार्य करेंगे। लेकिन आज के इस आर्टिकल में हम लोग काम करने के बारे में बात कर रहे हैं तो यहां पर काबू करने का मतलब यह नहीं है कि आप हमसे कोई भी काम जबरदस्त लेकर आने वाले हैं। यह काम करने का मतलब है कि आप उनसे मित्रता करने के बारे में सोच सकते हैं और उन्हें अपने साथ घूमने फिरने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

आपको पता नहीं कि पंडित को मान सम्मान देना एक पुण्य का काम है और पंडित ब्राह्मण लोगों को वहां सम्मान पाना बहुत ज्यादा पसंद होता है। आपको बता दें कि वे लोग ज्यादा पूजा अर्चना करते हैं और हमेशा दिन में 24 घंटे भगवान को याद करते रहते हैं। ऐसे में उन्हें मान सम्मान देना बहुत ज्यादा सराहनीय कार्य होगा आपकी तरफ से। यदि आप उन्हें मान सम्मान नहीं है तो वह भी आपके कार्यों को बहुत ही अच्छी तरह से एक करने के लिए सोचेगा।

मेरी आंखों ने मान सम्मान के साथ अपना घर बुलाते हैं और अपना पूजा-पाठ या तो कोई काम करवाते हैं। तो फिर वही पंडित बाद में आपको मिलने पर या तो रोड में कहीं भी मिलने पर आपको तरह तरह की बातें समझाएगा और आपको इज्जत सम्मान देने के लिए वह भी पर्याप्त कोशिश करेगा। अतः मेरा मानना है कि अगर आप किसी को काबू करना चाहते हैं मेरा मतलब यह है कि किसी का साथ पाना चाहते हैं तो कृपया करके उन्हें सम्मान देने की कोशिश करें इससे कोई भी काम में हो सकता है और पंडित भी काबू में हो सकता है।

2. पूजा पाठ की बात करें

अब से गुजरा तो बखूबी पता ही होगा कि पंडित लोग हमेशा पूजा पाठ करने के लिए सबसे निपुण होते हैं। चाहे पूरे भारत में किसी भी राज्य की सिम भी जिला में क्यों ना हिंदू समाज के लोगों को किसी भी पूजा पाठ में ब्राह्मण पंडित को बुलाना अनिवार्य होता है। साथ ही आपको अपने धर्म और शास्त्रों में जावे बताया जाता है कि किसी भी ब्राह्मण को खाना पीना देना और उसे नाम देना बहुत ज्यादा पुण्य का काम माना जाता है।

और पंडित को दान दक्षिणा देने से भगवान भी खुश होते हैं और आपके लिए बेहतर बेहतर कार्य करने के लिए भगवान आपका रास्ता खोल देते हैं। और इतने भले लोगों के बारे में आप इंटरनेट पर काबू करने के बारे में सोच रहे हैं क्योंकि आप इंटरनेट पर हमेशा Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen से संबंधित सवाल पूछते रहते हैं जिसे किसी को भी खराब लग सकता है।

किसी भी ब्राह्मण पंडित को आप अगर भक्ति की बात करेंगे पूजा पाठ के बाद करेंगे तो वह आपके घर आने के लिए तैयार हो जाएंगे। जैसे ही बाप के घर आए हैं आप उन्हें अच्छी अच्छी तरह का व्यंजन खिलाए याद रहे उन्हें सिर्फ शाकाहारी खाना ही खिला कर के नॉनवेज उन्हें नहीं पसंद है और नॉनवेज से बहुत ज्यादा दूरी रखते हैं। आप किसी भी पल में तो घर लेकर जाएं और उनका खानपान के बारे में अच्छी तरह से ध्यान रखें जिससे आप किसी भी पंडित को काबू में कर सकते हैं।

3. पंडित को सम्मान दें

Pandit Ko Kabu Kaise Kare

यदि किसी पंडित को आप अपनी पूजा पाठ तथा अपने घर के साथ के लिए बुलाया करते हैं तो उन्हें मान सम्मान के साथ घर लेकर आएं फोनोग्राम फिर उन्हें अच्छी तरह से खाना खिलाएं और बाकी सभी काम करवाने के बाद उन्हें दान दक्षिणा देकर ही वापस जाने दे पूनम राम क्योंकि कोई भी पंडित या कोई भी आदमी किसी भी कार्य करने के लिए किसी के घर ऐसे नहीं जाते हैं। उन्हें कुछ दान देना की जरूरत होती है जिससे उसका परिवार चल सके और आपका परिवार भी चल सके।

पंडित को सम्मान देने पर आपके भी अच्छे अच्छे कार्य पूरे होंगे और भगवान आपसे प्रसन्न होंगे। क्योंकि पंडित लोगों और ब्राह्मण लोगों के बारे में ऐसा कहा जाता है कि वे लोग साक्षात देवता के समान होते हैं और कुछ शिवरामन तो बहुत ज्यादा शांत स्वभाव और शीतल मन के होते हैं ऐसे में उसे ठेस पहुंचाना काफी ज्यादा निराशा हो सकता है।

किसी भी ब्राह्मण पंडित को अपने घर में मान सम्मान देने के लिए उन्हें अच्छी जगह बैठा है और उन्हें अच्छी-अच्छी खाने के लिए गए। साथ ही अगर वह जाने लगे थे उन्हें थोड़ा दूर छोड़ कर आए हैं ताकि पंडित ब्राह्मण जी को आपके ऊपर मेहरबानी देखें और वह खुश हो जाए ऐसा करने पर पंडित जब भी मिलेगा अपने कुछ न कुछ बातें करें और आप उसे अपने काम करवा सकते हैं। अतः मेरा मानना यह है कि किसी को भी मान सम्मान देने से वापी काबू में हो सकता है और रही बात पंडितों पर भी लागू होता है।

4. पंडित से झूठ ना बोले

अगर आपको किसी भी पंडित से अच्छे लंबे समय से जान पहचान है और वह आपसे कुछ भी सवाल करते हैं तो कृपया करके उन्हें झूठ बोलने का प्रयत्न भी ना करें। क्योंकि ऐसा करने से अगर वह जान जाएंगे कि आप उनसे रूठ गए हैं तो वह काफी ज्यादा निराश हो जाएंगे। क्योंकि झूठ बोलना खरीदी को खराब लगता है जब भी कोई भी व्यक्ति किसी से झूठ बोलता है तो उसे उस पर ज्यादा गुस्सा आने लगता है।

सच बोलना अच्छे लोगों की निशानी है और आपको यह भी बता दें कि सिर्फ पंडित ही नहीं किसी से भी या तो किसी भी समुदाय किसी भी धर्म लोगों से पाखंड से बचना चाहिए और पंडित को हमेशा सम्मान देना चाहिए। हालांकि आपको यह भी बता दें कि कुछ पंडित ऐसे होते हैं जो मन के काफी ज्यादा गंगाजल होते हैं जिसे आप लाख भला-बुरा करो वह आप के सम्मान में कुछ नहीं बोलेगा।

क्योंकि पानी लोग खुद ही बहुत ज्यादा कम बोलने वाले लोग होते हैं और वह हमेशा ही मौन धारण करते हैं। पंडित लोग ज्यादा भगवान के करीब मानी जाते हैं क्योंकि सबसे ज्यादा पूजा अर्चना और कथा वाचक में भाग लेने वाली सबसे ज्यादा पंडित ब्राह्मण ही पाए जाते हैं। और भारत में ऐसा माना जाता है कि किसी भी कार्य को फ्री पंडित बरामद कराने से उसमें ज्यादा तरक्की और ज्यादा ऊंचा कारोबार यह तो घर की शिकारी में कराने में अच्छी बरकत होता है।

5. पंडित से दोस्ती करें

मैंने किसी पंडित से आपको काम है यह तो किसी पंडित या वो काम कराना है तो उन्हें दोस्ती ऐसी मिली और अपने दोस्ती के नाते उनसे अपना काम कराएं। क्योंकि दोस्ती ही एक ऐसा जरिया है जिसे कोई भी किसी के काम करने में इसके चाहते नहीं है। नहीं तो आप कोई भी काम किसी को भी कहे चाहे आप कितना पैसा क्यों ना दिया करवा काम करने का नहीं होगा तो बिल्कुल भी नहीं करेगा।

लेकिन बात जब दोस्ती की आएगी तो कोई भी वहां जो जाता है लेकिन दोस्ती ऐसी चीज है जो रिश्तेदार से भी बड़ी होती है और आज पड़ोसियों से भी बड़ी होती है। जहां अपनी दोस्ती होती है वहां से तो कभी नहीं राशन नहीं मिल सकता है और ऐसे में दोस्ती के लिए बरामद खुद अच्छा माना जाता है क्योंकि ब्राह्मणों कभी दोस्ती में गद्दारी नहीं करते हैं।

यदि आप सही में किसी ब्राह्मण से दोस्ती करना चाहते हैं या किसी प्रमाण से कोई काम है या उसे काबू में करना चाहते हैं तो आप उसी पर सबसे पहले दोस्ती करना था जो उन्हें। उसके बाद आपका जो भी काम होगा काम अपने पर निर्भर आमंत्रित नहीं है तो आपको अपने मोहल्ले में गरबा करना है तो पंडित और हम से दोस्ती करें फिर उनके साथ गांव में। है ऐसे में पंडित पहचान होने पर आपको घर वाले और मोहल्ले वाले ज्यादा मान सम्मान देंगे क्योंकि आप एक पंडित का दोस्त होंगे।

6. पंडित से धार्मिक बातें करें

यह बात तो किसी से छुपी नहीं होगी कि पंडित ब्राह्मण लोग ज्यादा धार्मिक होते हैं। आप अपने मन में खुद ही सोच सकती हैं कि हमें जब भी किसी धार्मिक कार्य के बारे में या तो किसी कार्य के करने के लिए सोचती है तो सबसे पहले किस आदमी का ध्यान मेरे मन में आता है। आप किसी भी शुभ कार्य करने के लिए सबसे पहले सोचते हैं तो सबसे पहले आप अपने घर में पूजा या अपने प्रधान पूजा करवाने के बारे में सोचते हैं। और पूजा करने के लिए किसी अच्छे पंडित ब्राह्मण की जरूरत पड़ती है ऐसे में यह साफ हो गया है कि पंडित ब्राह्मण ज्यादा धार्मिक होते हैं।

पंडित ज्यादा गर्मी होने के साथ-साथ ज्यादा लंच भी नहीं करते हैं उन्हें जितना मिलता है उतना मैं खुश ही रहता है। के के बड़े-बड़े पूजा पंडाल और कथावाचक ने करने के बावजूद भी उन्हें दक्षिणा दान के नाम पर कुछ ही रकम मिलती है जिससे वह खुशी-खुशी गरीब कर लेता है। और कभी किसी भी प्रकार की कमी कोताही होने पर भी ज्यादा कुछ नहीं बोलते हैं क्योंकि पंडित लोग ज्यादा होते हैं।

अगली बार से अगर किसी पंडित आप अपने पूजा घर में बुलाएगा उसे पूजा कराने के लिए बोलिएगा तो उसे अच्छी दान दक्षिणा के साथ विदा कीजिएगा। तेरी जो लोग अपने घर में इतनी सारी खुशियां के लिए पूजा पाठ करते हैं और भगवान से दुआएं करते हैं उनके लिए हमने इतना भी नहीं कर सकते उन्हें एक सच्चा सम्मान राशि देने का प्रयत्न करेंगे।

7. पंडित से ज्ञान की बात करें

भोजपुरी भारत में ज्ञान की बात करें तो सबसे ज्यादा ज्ञानी पंडित ही होता है क्योंकि उनके पास बहुत सारे वेद गीता और पुरान के बहुत सारी जानकारी होता है और उन्हें बहुत सारे अच्छी किताबें जोगी हिंदू धर्म में एक दौर में कितनी माना जाता है उनके मूल मंत्र बहुत ज्यादा पंडित लोगों को भी याद रह पाते हैं। किसी ने किसी पंडित से ज्ञान की बात कीजिएगा तो वह कभी भी आपको मना नहीं करेगा और हमेशा आपके लिए किसी भी गाड़ी करने के लिए रेडी रहेगा क्योंकि उन्हें ज्ञान और मान सम्मान में ज्यादा खुशी मिलती है।

अपने घर आए पंडित मेहमानों से तरह-तरह के ज्ञान के बाद एक पूजा के लिए दोनों विराम यह बातें आपको पता नहीं है वह बातें आप वे पंडित लोगों से पूछे इसे बहुत ज्यादा शिक्षा ज्ञान होता है। पंडित के पास बहुत ज्यादा उच्चारण और मंच का ज्ञान होता है वह हमेशा कभी कथावाचक तो कभी यज्ञ में अपने मंत्रोच्चारण का ब्याव करके लोगों का कष्ट दूर करते हैं।

ऐसे में यदि किसी पंडित से हम कोई मंत्र उच्चारण अयोध्या में अभी काम करवाना चाहते हैं या तो अपने लिए पर्सनल कोई काम करवाना चाहते हैं तो उसे दोस्ती करना बिल्कुल भी जरूरी है। आप उसे ज्ञान की बात करते समय अच्छी-अच्छी बातें पूछे और आपने घर में उसे प्रयोग कीजिए तभी आपके लिए भगवान सुखद रास्ते हमेशा बनाएंगे क्योंकि एक पंडित ब्राह्मण भगवान के ज्यादा करीब होते हैं। इसी कारण से भगवान उन्हें अपने पूजा पाठ के लिए स्पेशल सुनते हैं।

8. शुद्धता का ध्यान रखें

Brahman Ko Kabu Mein Kaise Karen

जैसा की आप सभी को पता होगा कि पंडित ब्राह्मण लोग किसी प्रकार की स्थिति नहीं खाती है साथ में उपयोग लहसुन और प्याज का उपयोग भी नहीं करते हैं। ऐसे में जब कोई पंडित आपके घर आता है तो इन बातों का भी ध्यान रखना होता है कि उन्हें बिना लहसुन प्याज वाली और अच्छे से खुश हो जाए।

जुली जुली पंडित का पहरा है या कोई पंडित से आप मिले तो हमेशा उन्हें खाने के बारे में पूछे लेकिन उन्होंने ऐसा गाना दीजिए कि उन्हें पसंद आए। क्योंकि वे लोग कभी भी नॉनवेज को नहीं खाते हैं और हमेशा शाकाहारी साग सब्जी पर अपना जिंदगी गुजर बसर करते हैं।

पंडितों के लिए स्पेशल खाना बनाना है बिना लहसुन और प्याज का बिना नॉनवेज का उसके लिए अनिवार्य माना जाता है। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आपके घर का खाना या आपके दिया वह कहीं भी से खरीदा गया खाना पंडित लोग नहीं छोड़ेंगे। साथ ही आपको बहुत गलत और भी बिखरा हुआ इंसान समझेगी क्योंकि आप किसी पंडित कौन से खाने-पीने के निर्देश आने वाले थे। यदि आपको सही में पंडित को काबू करना है तो आप इस बातों को ध्यान रखें।

पंडित को काबू को करने का निष्कर्ष

उम्मीद है मेहर टेक हिंदी वेबसाइट पर पंडित को काबू करने के बारे में और पंडित को काबू करने के तरीके के बारे में बताया यह उम्मीद है आप लोगों को ज्यादा पसंद आया होगा। क्योंकि आज के इस लेख में हमने Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen, पंडित को काबू में कैसे करें से संबंधित सभी प्रकार के प्रश्नों का जवाब दिया है।

साथ ही हम लोगों ने पंडित को काबू कैसे करें इससे संबंधित बहुत सारे प्रश्नों का जवाब दिए हैं जैसे कि Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen Google, Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen, पंडित को काबू में कैसे करें, Brahman Ko Kabu Mein Kaise Karen, Ko Kabu Me Kaise Karen, Pandit Ko Kabu Kaise Kare, पंडित को काबू कैसे करें, Pandit Ko Kaise Kabu Kare तथा पंडित को कैसे काबू करें के बारे में पूर्ण जानकारी दिया गया है।

Mehar Tech Hindi की ओर से जारी किया गया यह आर्टिकल आपको कैसा लगा आप हमें हमारे कमेंट बॉक्स में जरुर बताइएगा। और यदि आपको हमारी आर्टिकल पसंद आया है तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर जरूर शेयर करें ताकि आपके ब्राह्मण दोस्तों को भी उनके बारे में पता चल सके।

FAQ Pandit Ko Kabu Mein Kaise Karen
  1. पंडित को काबू में कैसे किया जा सकता है?

    पंडित को काबू करने के बारे में आप सोच भी नहीं सकते क्योंकि पंडित लोग भगवान के ज्यादा करीब होते हैं और उन्हें काबू में करना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।

  2. पंडित लोग कैसे होते हैं?

    पंडित बहुत भोले भाले और भगवान के बड़े ही प्यारे होते हैं क्योंकि उनका मन बहुत शीतल होते हैं और वह किसी के लिए बुरा कभी नहीं सोचते हैं।

  3. ब्राह्मण पंडित को कैसे काबू में किया जा सकता है?

    ब्राह्मण या किसी पनीर को काबू करने के बारे में किसी को भी तो नहीं सोचना चाहिए। क्योंकि इस दुनिया में कोई भी किसी को काबू नहीं कर सकता है जब तक वह खुद ना चाहे।

  4. पंडित से पूजा पाठ कैसे करवाएं?

    ब्राह्मण पंडित से पूजा करवाने के लिए सबसे पहले उन्हें यह बताना हुआ की पूजा किस दिन सही होगा और उस दिन के लिए उन्हें निमंत्रण देनी होती है।

Share on:

Hi, मैं Rahul मेहर टेक साइट पर आपका स्वागत करता हूँ। मैं अभी BCA कर रहा हूँ, मुझे Computer, Blogging और Technology में बहुत Interest है। मुझे सीखना और सिखाना बहुत पसंद है।

Leave a Comment