Miya Bhai Ko Kabu Kaise Kare | मुसलमानों को काबू कैसे करें?

दुनियाभर में इंटरनेट आजकल बहुत ज्यादा चलन हो गया है यही कारण है कि लोग आजकल इंटरनेट पर ऐसे-ऐसे सवाल करते हैं जिनका जवाब गूगल को भी सोच सोच कर देना पड़ता है। जिसमें से एक सवाल यह है कि मैं भाई को काबू कैसे करें?

आज की इस लेख में हम जानेंगे कि मुसलमानों को कैसे काबू में करें साथ ही उन सभी तरीकों के बारे में जानेंगे।  क्योंकि Miya Bhai Ko Kabu Kaise Kare आजकल बहुत ज्यादा इंटरनेट पर वायरल हो रहा है और सभी लोग जानना चाहते हैं।

आज के इस लेख में हम सिर्फ मुस्लिम को अभी करने के बारे में ही नहीं बल्कि मुसलमान कौन लोग हैं, मुस्लिम लोग के तालुकात कहां से हो, और मुस्लिम का सही अर्थ क्या है इसके बारे में भी चर्चा करेंगे। सोते हैं मुस्लिम विकिपीडिया के अनुसार यह जानकारी आपसे साझा करेंगे।

सवालों में से एक सवाल यह है यह भी है कि दुनिया भर के सवालों में से पूछे जाने वालेआजकल हम इंटरनेट पर इन सारे सवालों के बारे में ज्यादा तवज्जो देते हैं। क्योंकि इंटरनेट पर आजकल इस तरह के साथ प्रयोग करते हैं और साथ ही इन सभी समाज के बारे में जानने का प्रयत्न करते हैं।

आज के  लेट मे आपको इस्लाम से संबंधित और मुसलमानों से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां देखने को मिलेगा। यह लोग खाना कि मुसलमानों को काबू करने के बारे में अरे नहीं नहीं है। हालांकि इस लेख की टाइटल टाइटल मिले जरूर मिलेगा  लेकिन यह लेख इस बारे में नहीं है इसलिए इसमें मियां भाई के बारे में पूरी जानकारी संक्षिप्त में दिया जाएगा।

Miya Bhai Ko Kabu Kaise Kare, औकात में रहकर सर्च करें?

हो सकता है इंटरनेट पर इस तरह के सवाल पूछने पर आपको जवाब नहीं मिल सकता है कि कृपया करके औकात में रहकर सर्च करें। सबसे पहले आइए जानते हैं गूगल इस तरह का जवाब हमें कौन देता है। उसे इस तरह का सवाल करना आज भी नहीं करते पुराने जमाने से करता है लोग एक दूसरे के धर्म से नफरत में पढ़कर इस तरह का सम्मान करते रहते हैं।

लेकिन सच तो यह है कि आजकल के जमाने में अपने आप में एडवांस हो गए हैं और दुनिया तरक्की कर रहे हैं ऐसे में किसी को पागल करना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। इसलिए गूगल पर किसी मुस्लिम को काबू करने के बारे में और मियां भाई को काबू करने के बारे में सोचा तक नहीं।

क्योंकि मेरा भाई गुस्से में  शेर बन जाते हैं और एक शेर के सामने मुकाबला कर पाना किसी जानवर के बस की बात नहीं।इसलिए अच्छा लगा कि गूगल पर इस प्रकार की जानकारी ढूंढने के लिए बिल्कुल भी सर्च ना करें। क्योंकि एक छोटा सा गलत कदम आपको आपसे ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है। 

Miya Bhai Ko Kabu Kaise Kare

हालांकि की इस सवाल को सर्च करने में कोई बुरी बात नहीं है और ना ही किसी मुस्लिम को मेरे अनुसार कोई फर्क पड़ता होगा। क्योंकि मुस्लिम जो होते हैं वह सिर्फ अल्लाह के सामने डरते हैं ना की किसी दूसरे लोगों के सामने। क्योंकि मुस्लिम लोगों का सर सिर्फ अल्लाह के सामने झुकता है। इसीलिए आपको बिल्कुल भी इस तरह की ना सोचे कि कोई किसी से डरने वाला है आजकल के जमाने में।

एक बात तो सत्य है कि इस तरह का सवाल करने में लोगों का बड़ा मजा आता है। गूगल के अनुसार इस्तेमाल करो सर्च करने वाले प्रतिमा 1 से 2000 लोग होते हैं जो कि गूगल पर मियां भाई को कैसे काबू करें इस बारे में उत्तर ढूंढते हैं।

लेकिन क्या इस सवाल पर सर्च करना गूगल परसर आपके अनुसार यह सही है तो किस प्रकार से और किस लिए आप किसी को काबू में करने की बात करते हैं। हालात चाहे कोई भी हो धर्म चाहे कोई भी हो धर्म कभी किसी के लिए बुरा नहीं होता और कोई भी धर्म किसी धर्म को बुरा नहीं कहता।

लेकिन फिर भी आजकल इस सवाल का जवाब पाने के लिए लोगों को इंटरनेट का पता नहीं क्या मजा आ जाता है। जो कि बार-बार इस प्रकार का सवाल का जवाब करते रहते हैं ऐसे में मेरा मानना है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है और इस देश में सभी धर्मों को और सभी जाति के लोगों को उतना ही हक है जितना सभी को

मियां भाई को कैसे काबू किया जाए?

इस सवाल को ढूंढते ढूंढते गूगल की जमीनी फट जाएगी लेकिन गूगल इस सवाल का जवाब नहीं दे पाएगा या तो गूगल हो जूस करने वाले यूजर्स को इस सवाल के बारे में पता चल पाएगा। हालांकि ऐसा नहीं है कि जो लोग उस सवाल को सर्च करते हैं वह सब ले कुछ लोग बस अपनी इंटरेस्ट और मौज मस्ती के लिए गूगल वॉइस असिस्टेंट से इस तरह का सवाल का जवाब पूछते रहते हैं।

इसमें मुस्लिमों के लिए कोई बुरी बात नहीं कि कोई उसके बारे में गूगल पर क्या-क्या सर्च करता है क्योंकि मुस्लिम  किस प्रकार आदमी हैं और उन्हें किन-किन बातों से फर्क पड़ता है यह सभी जानते हैं। ऐसे में जिन्हें नहीं पता है ऐसे लोग इस तरह के सवाल गूगल पर करते रहते हैं।

ऐसे भी मुस्लिमों के प्रति आजकल भारत में बहुत ज्यादा लड़ाई झगड़ा देखने को मिलते हैं। क्योंकि यहां का माहौल भी उसी हिसाब से है।कोई भी लोग किसी भी धर्म के बारे में अब खुलकर बोलने लगे हैं। लेकिन ऐसा करना किसी भी धर्म में नहीं सिखाया गया है चाहे वह कोई भी धर्म हो। सभी धर्म के अनुयायियों के द्वारा अच्छी शिक्षा दी है कि वह दूसरे के धर्मों को प्राथमिकता दें जिस तरह से वह अपने धर्म को सम्मान करते हैं।

हालांकि इन सभी सवालों के जवाब से कुछ होने वाला तो है ही नहीं फिर भी किसी एक धर्म को टारगेट करना और किसी एक धर्म को काबू करने के बारे में सोचना। किसी भी धर्म के लोगों को बुरा लग सकता है और उनके मान सम्मान को ठेस पहुंच सकता है। यही कारण है कि हम सभी से अनुरोध करते हैं कि कृपया करके इस जैसे सवालों का उपयोग करना बंद करें और अपने देश में अमन और शांति बनाए रखें।

मुस्लिम कौन है  मियां भाई के बारे में जानकारी?

सबसे पहले आप सभी को बता दे कि मियां भाई और मुस्लिम एक ही चीज है उसके बाद आइए हम जानते हैं कि मुस्लिम कौन है। दोस्तों मुस्लिम एक प्रकार का धर्म है जो एक अकेला ईश्वर सिर्फ अल्लाह को अपने खुदा  मानता है।

मुस्लिमों का मानना है कि पूरी दुनिया और पूरी सृष्टि को बनाने वाला एक ही है वह सिर्फ आना है वही सब सबको देखने वाला है, वही सबका मालिक है, वही सबका हाकिम है, वहीं इस पूरे संसार को बनाने वाला है, और पूरी सृष्टि उन्हीं के आज्ञा के मुताबिक चलती है।

साथ ही आपको यह भी बता दें कि मुस्लिमों के लिए हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहू अलेही वसल्लम उनके प्यारे रसूल है और भी मुस्लिमों के आखरी पैगंबर है। मुस्लिम लोग उनके बताए गए रास्तों पर चलने की पूर्ण रूप से कोशिश करते हैं। और अपने खुदा को राजी करने के लिए पैगंबर के बताए रास्ते पर और पैगंबर के द्वारा बताए गए बातों को गौर से सुनते हैं। 

मुस्लिमों के लिए कुरान एक सबसे पवित्र पुस्तक है जो एक अटल पुस्तक है उसमें कभी भी किसी भी प्रकार की त्रुटि नहीं पाई जाती है कुरान एक संपूर्ण किताबऔर यह किताब पूरी दुनिया के लोगों के लिए एक जीवन जीने की कला है।

 इस किताब की पवित्रता इतनी है कि मुस्लिम लोग अपनी शान से पहले इस किताब की रखवाली करते हैं और इन्हें अपने घर में बहुत संभाल कर रखे जाते हैं। उन्हें यह भी ध्यान रखना होता है कि इस किताब को कहीं पैर न लगे और कहीं गिरे ना।

साथ ही मुस्लिमों के द्वारा पवित्र कुरान को इतना महत्व दिया जाता है कि मुस्लिम लोगों को इस किताब के तरफ पीठ करके भी नहीं सोते हैं। क्योंकि वह इन किताबों को पूरी दुनिया के सबसे पवित्र पुस्तकों में से एक मानते हैं।

कुरान पुरी दुनिया में एक रहमत का रास्ता लेकर आई है और तमाम इस जहान में रहने वाले लोगों के प्रति पूरी पवित्रता और पूरी जागरूक करने वाली किताब। इस किताब की बात करें तो यह किताबको मुस्लिमों के आखिरी पैगंबर हजरत मोहम्मद सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम पर खुदा ने नाजिल  फरमाए गई है।

हांलाकि पैगंबर मोहम्मद और किताबें पवित्र कुरान के आने से पहले मुस्लिमों के लिए और भी कई सारे किताब खुदा के द्वारा यानी कि अल्लाह के द्वाराउठा ले गए हैं जो पहले से आए नबियों का उनके द्वारा किताबों को नाजिल किया गया।

मुस्लिमों का ताल्लुक सबसे ज्यादा रहने वाले मुस्लिम देश सऊदी अरबिया से है।सऊदी अरबिया को इस्लाम का केंद्र माना गया है। और आज भी लोग सऊदी अरब हज यात्रा के लिए जाया करते हैं।

आपको बता दें कि पूरी दुनिया में बहुत सारे और पूरी दुनिया के लगभग पूरी देश से सभी लोगों को हज करने के लिए के लिए सऊदी अरब का रास्ता खुला है। वहां सभी मुस्लिम समाज के लोग जाते हैं और यात्रा को पूर्ण करते हैं।

मुस्लिमों के द्वारा सबसे ज्यादा महत्त्व नमाज को दिया जाता है। उसके बाद फिर रोजा, हज करना है, जगात देना मतलब कि किसी गरीब को उनको मदद करना इन सभी चीजों को इस्लाम में पवित्र माना गया है वह सभी मुस्लिम को यह करना अनिवार्य है।

उम्मीद है आप सभी को मुस्लिमों के बारे में बिल्कुल अच्छी तरह से जानकारी मिल गई होगी। तो उम्मीद है आप सभी लोग कभी भी गूगल पर किसी भी धर्म के खिलाफ इस तरह से नफरत भरी सवाल जवाब नहीं करेंगे।

दोस्तों अगर मुस्लिमों का सपोर्ट चाहिए तो आप उसे बहुत तरह से राजू कर सकते हैं लेकिन उस शब्द काबू करना कभी किसी के ऊपर ही हो या खराब लगता है। अगर बात मुस्लिमों की करो तो वह हर बात के लिए और हर काम करने के लिए राज़ी रहते हैं लेकिन उन से काम करवाना और काम करवाने का तरीका अच्छा होना चाहिए।

अगर आप मुस्लिमों को कुछ भी काम करवाने के लिए चुनते हैं तो उसके लिए इन तरीकों को अपनाना होगा जो नीचे दिए गए हैं।इन तरीकों का इस्तेमाल करके आप मियां भाई को काबू में करने के तरीके के बारे में जान सकते हैं। साथ ही मियां भाई को कंट्रोल करने के तरीके के बारे में जानकारी उस पर अप्लाई कर सकते हैं।

भाई को काबू में करने का तरीका हिंदी में

नीचे दिए गए तरीकों के अनुसार आप किसी की मियां भाई को काबू करना अथवा मनाना बड़ी आसानी से कर सकते हैं। साथी आपको यह भी बता दें कि काबू करने की बात तो भूल ही जाएगी। उन्हें काबू करने के बारे में सोचना भी मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। तुम्हारी आप जानते हैं कि हमें मुस्लिम भाइयों को सपोर्ट पाने के लिए क्या करना पड़ेगा।

मियां भाई से दोस्ती करें

जैसा की आप सभी को पता होगा कि इस पूरे संसार में दोस्ती से बढ़कर कोई चीज नहीं होती है।साथ ही आपको भी पता होगा कि दोस्ती से बढ़कर किसी पर विश्वास नहीं किया जाता है यही कारण है कि वह किसी को भी सपोर्ट करने के लिए उनसे दोस्ती करते हैं। तेरी दोस्ती में इतनी ताकत है कि वह अपनी  दोस्ती के लिए अपनी जान दे सकता हूं तो फिर तो फिर देर किस बात की मेरे किसी मुस्लिम को काबू करना है मतलब पूरा सपोर्ट पाना है तो आप उनसे दोस्ती करोगे।

Miya Bhai Ko Kabu Kaise Kare

जिस तरह से आप उससे बहार करेंगे वहां भी आपसे पूरी निष्ठा के साथ उतनी ही निष्ठा पूर्वक और सम्मान पूर्वक मित्रता के धर्म को निभाएगा। क्योंकि धर्म चाहे कोई भी हो दोस्ती की यादें कुछ नहीं चलती है आजकलहमारे भारत में बहुत सारे ऐसे उदाहरण देखने को मिलते हैं जो एक मुस्लिम दोस्त के लिए हिंदू अपनी जान गवा देते हैं।

और एक हिंदू दोस्त के लिए मुस्लिम अपनी जान गवा देते हैं तो दोस्तों उम्मीद नहीं थी आपको दोस्ती की कीमत समझ में आ गया होगा।और हमें उम्मीद करते हैं कि आप कभी भी किसी भी धर्म के लोगों के प्रति दोस्ती के जरिए उनकी बात को मनवाने की कोशिश करूंगा।

मुस्लिमों के साथ अच्छा व्यवहार करें?

दोस्तों अच्छी भी हमारा अच्छे चरित्र इंसान की सबसे बड़ी आइडेंटिटी है इससे बढ़कर किसी भी प्रकार की कोई आईडेंटिटी नहीं रहती है। क्योंकि जिनका चरित्र सही है उनके लिए मुस्लिम तो क्या हिंदू सिख और ईसाई सभी लोग बढ़-चढ़कर मानते हैं। और पूरी निष्ठा और सम्मान के साथ उनका आदर करते हैं।

किसी को भी सहयोग करना हर धर्म के प्रति यह धर्म होता है कि वह अपने आसपास रहने वाले लोगों की मदद करें। खास करके मुस्लिम धर्म में ऐसा मानना है।जब आप किसी के साथ अच्छा व्यवहार रखते हैं तो सामने वाले उससे अच्छा बर्ताव रखते हैं।

यदि आप मियां भाई को काबू में करने के बारे में सोच रहे हैं तो उन सभी तरीका से बढ़कर कोई तरीका नहीं हो सकता है। क्योंकि उसे काबू करने के लिए यही तरीका काम में आने वाली है क्योंकि आप किसी भी धर्म के लोगोंके प्रति हिंसा और अपनी ऊंचाई के दम पर किसी को भी कंट्रोल नहीं किया जा सकता।

यदि आप गूगल सभी पूछेंगे कि मियां भाई को कंट्रोल कैसे करें एवं मुस्लिमों को कंट्रोल में कैसे करें। गूगल का भी यही जवाब होगा किकृपया करके औकात में रहकर सर्च करें और आलतू फालतू की चीजें हमारे गूगल पर सर्च करने की कोशिश बिल्कुल भी ना करें।

अतः मेरा कहना है कि यदि आप मुस्लिमों का सपोर्ट चाहती हैं तो उनके साथ अच्छा व्यवहार करें और अपने व्यवहार के प्रति उनका दिल जीतने का कोशिश करें। पूरी उम्मीद होती है जो आप उनके साथ अच्छा कर रहे हैं वह भी आपके साथ उससे ज्यादा अच्छा बात करेगा।

आपको बता दें कि गूगल पर बहुत सारे सवाल पूछे जा रहे हैं। जिसका जवाब गूगल अपनी मर्जी से अपने हिसाब से देती है।गूगल पर आजकल बहुत सारे सवाल ऐसे होते हैं जिसका  जवाब किसी भी तरह से मायने नहीं रखता है।

क्योंकि उस तरह का जवाब सुनकर उस तरह सवाल का हल पाकर किसी को भी कुछ फायदा नहीं होने वाला है। ऐसे में फालतू मिलो अपना दिमाग लगाते रहते हैं और कभी किसी को कभी किसी को काबू में करने की बात करते रहते हैं। साथी आपको यह भी बता देगी गूगल अपनी एल्गोरिथ्म के अनुसार उन सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश करते हैं वह सभी सवालों का जवाब पाकर यूजर्स संतुष्ट होता है।

हम अभी गूगल का काम तो यही है कि अपने यूजर्स को संतुष्टि देना। लोग गूगल पर कुछ भी बोल सकते हैं क्योंकि गूगल पर किसी प्रकार की कोई लिमिट नहीं लगाई गई है। लोग तो यहां पर विश्वास करते हैं कि गूगल गूगल को काबू में कैसे करें।

तो आपको क्या लगता है कि किसी के बारे में गलत पूछना गूगल कैसे बना कर सकता है। क्योंकि गूगल पर ही गूगल को काबू करने के बारे में पूछा जाता है। लेकिनफिर भी गूगल इसका जवाब अपनी निष्ठा के अनुसार रहता है क्योंकि गूगल कोई इंसान नहीं है जो उसे बुरा लगेगा।

गूगल एक सर्च इंजन है और यूजर्स के द्वारा जो डाटा उनके पास आता है उसमें से जो भी जवाब उसको सही लगता है वह अपने यूजर्स को रिजल्ट के रूप में बता देते हैं। क्योंकि गूगल का मानना है कि अगर हमारे विचार संतुष्ट है तो हम भी संतुष्ट हैं। जिसमें कोई भी कुछ भी पूछे हम उसे अपने जवाब पूरी निष्ठा पूर्वक देंगे ताकि  उपभोक्ता को संतुष्टि प्रदान हो सके।

मियां भाई को कैसे काबू में कर सकते हैं?

उम्मीद है आपको इस प्रकार के सवाल के बारे में बिल्कुल पूरी तरह से और बिल्कुल सही से जवाब मिल गया होगा। साथ ही आपको इसलिए उसके बाद किसी दूसरे लोग को पढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ेगी किसी को काबू करने के लिए।

 भारत के संविधान के मुताबिक भारत एक लोकतांत्रिक देश है और यहां किसी भी धर्म के लोगों को पूरी आजादी है कि वह अपनी मर्जी से और अपने हिसाब से जीवन जी सकते हैं। कोई भी किसी भी प्रकार के तहत किसी भी धर्म विशेष के प्रति और एक विशेष जाति के प्रति नहीं कर सकते हैं।

साथ ही आपको यह भी बता दें कि हमारा संविधान अल्पसंख्यक और नीची जाति के लोगों को काफी ज्यादा सुरक्षा प्रदान करता है। देश में तरह-तरह के नियम कानून और सुरक्षा के कायदे कानून बने हुए हैं। जिसको पालन करना हम सबके कर्तव्य बनता है कि हम एक अच्छा नागरिक होने की बात को साबित कर सके।

इस तरह से किसी को भी काबू करने के बाद करना भारत के संविधान के उसूलों के खिलाफ है और भारत के संविधान की आजादी नहीं देता है। भारत में सभी समुदाय के लोगों को उतनी ही इज्जत दिया जाता है उतना ही सम्मान दिया जाता है।

साथियों को यह भी बता देखी यहां सभी प्रकार के सभी लोगों के धर्मों के परिवारों के प्रति इतनी ही श्रद्धा पूर्वक इंतजाम किया जाता है और उनके लिए सुरक्षा की व्यवस्था दी जाती। मेरा मानना है कि भारत में इस तरह का सवाल जवाब करना उचित नहीं है।

मियां भाई को काबू करने के बारे में

आपको इस लेख में Miya Bhai Ko Kabu Kaise Kare और मुस्लिम को काबू करने के बारे में पूरी विस्तार से जानकारी दिया गया है। उम्मीद है कि इस वेबसाइट पर यह जानकारी आपको संतुष्ट करती होगी और हमारे विचार से आप संतुष्ट होंगे। इस वेबसाइट के द्वारा भारत के सभी लोगों को और सभी धर्मों को सम्मान पूर्वक सम्मान दिया जाता है।

और सभी धर्मों को उतना ही ज्यादा वैल्यू दिया जाता है क्योंकि सर्वधर्म सर्वोपरि होता है यही कारण है कि हमारा देश आज पूरे विश्व में एक लोटा ऐसा देश है जहां भाईचारा का मिसाल दिया जाता है। यह लेख किसी व्यक्ति विशेष के बारे में या किसी जाति के बारे में एक ही धर्म के बारे में नहीं लिखा गया है।मेरी हमारी लिखी गई इसलिए इसमें किसी Word से आपको किसी प्रकार की दिक्कत है, तो हमें सूचित करें। हम जल्द ही इसे अपडेट करने की कोशिश करेंगे।

अगर यह लेख आपको पसंद आया है तो कृपया अपनी सर्किल में अपनी सोशल मीडिया हैंडल पर इसे जरूर शेयर करें। और हमारे टेलीग्राम चैनल और फेसबुक पेज को जरुर से फॉलो करें। ताकि आगे की अपडेट आपको उसी तरह मिलती रहे। हमारी इस वेबसाइट पर विजिट करने के लिए आपका धन्यवाद।

मियां भाई को काबू कैसे करें?

मियां भाई आग में डूबे शेर होते हैं और उन्हें काबू करना हर किसी के बस की बात नहीं है। इसीलिए मियां भाई को काबू करने के बारे में सोचना भी मत। क्योंकि मियां भाई को काबू करना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है?

मियां भाई को कैसे काबू में किया जाए?

भारत एक लोकतांत्रिक देश होने के कारण यहां किसी भी प्रकार के धर्म के लोगों के प्रति नफरत नहीं फैला सकते हैं। और किसी को भी काबू करने के बारे में सोचना भी मना है भारत में किसी को काबू करना गैरकानूनी माना गया है अतः सभी धर्मों को पूरी आजादी के साथ यहां रहने की इजाजत है।

मुस्लिम भाई को कैसे काबू में करें?

मुस्लिम भाई को काबू में करना बेहद आसान है आप उसे भाईचारा प्यार मोहब्बत दोस्ती से उसे काबू में कर सकते हैं। लेकिन जबरदस्ती काबू में करना किसी की बस की बात नहीं है और उसे काबू में करना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।

मुसलमान को काबू में कैसे करें?

मुसलमान एक सच्चा और सर्वोपरि धर्म है जो एक ईश्वर पर विश्वास करता है। मुस्लिम का सर किसी दूसरे के आगे कभी नहीं सकता चाहे वह कोई भी हो। मुस्लिम लोग एक अल्लाह के अलावा किसी के पास अपना सर नहीं झुकाते हैं। ऐसे में उन्हें काबू करना आसान ही नहीं नामुमकिन है।

मुस्लिम का क्या अर्थ है?

मुस्लिम होने का मतलब है कि एक सच्चा पक्का आदमी जो पूरी ईमानदारी के साथ एक ईश्वर की मानने वाला हो। और पैगंबर मोहम्मद को आखरी नबी मानता हो साथ ही लायक है उस पर विश्वास करता हो और इस्लाम के बताए गए रास्ते पर नमाज सरोजा और जकात देना फर्ज समझे। 

Hi, मैं Rahul मेहर टेक साइट पर आपका स्वागत करता हूँ। मैं अभी BCA कर रहा हूँ, मुझे Computer, Blogging और Technology में बहुत Interest है। मुझे सीखना और सिखाना बहुत पसंद है।

Leave a Comment