सीआईडी (CID) और सीबीआई (CBI) में क्या अंतर है?

CBI और CID क्या है: आप सभी लोग TV, News और समाचार पत्र में CID और CBI का नाम तो जरूर सुने होंगे. क्योंकि आज की पोस्ट में हम इन्ही मुद्दों पर चर्चा करने वाले है. CID को तो हम सभी बहुत अच्छी तरह से जानते है जैसा कि हमारे TV पर भी CID को देखने को मिलता है. लेकिन आज हम सच वाला सीआईडी और सीबीआई का फुल फॉर्म और दोनों में अंतर के बारे में बताने जा रहे है.

सीआईडी (CID) और सीबीआई (CBI) में क्या अंतर है?

हेलो दोस्तो स्वागत है आप सभी का आपके अपने साइट Mehar Tech Hindi पर. यहाँ हम रोचक जानकारी, टेक्नोलॉजी, जॉब, और जो जानकारी आपके काम की हो हम सभी पर जानकारी देते है.

CID और CBI जैसा कि नाम से ही लग रहा है कि ये दोनों सरकार की महत्वपूर्ण संस्था है जो क्राइम सम्बन्धित प्रॉब्लम को हल करती है. हालांकि हम सभी लोग इतना तो जरूर जानते है कि ये दोनों संस्थाओं पुलिस और क्राइम अपराध, लूटपाट, धोखाधड़ी, बलात्कार जैसे क्राइम को हल करने का काम करती है.

ये सभी एक खुफिया एजेंसी के तौर पर कार्य करती है. आज हम यही जानने वाले है कि CBI और CID का full form और इनके क्या काम होते है और CBI और CID में क्या अंतर होते है.

जैसे जैसे हमारी धरती और या यूं कहें तो हमारा देश बढ़ रही है वैसे अनेक क्राइम होते जा रहे है. अभी तो हम जब भी टीवी को खोलते है या मोबाइल खोलते है तो सिर्फ ज्यादातर क्राइम से रिलेटेड न्यूज़ नोटिकफिकेशन मोबाइल में आती है. ये इसलिए हो रहा है क्योंकि अब क्राइम बहुत ज्यादा बढ़ रहा है. हमारी देश ही नही बल्कि पूरी दुनिया में क्राइम में काफी तेजी देखने को मिली है.

लेकिन आज हम बात करेंगे कि ये जो इतना क्राइम बढ़ रही है इनका समाधान कौन करता है. जैसा कि हम सभी को पता है कि हमारे लोकल एरिया में कुछ भी प्रॉब्लम या क्राइम होती है तो हमारी Local Police उसे Solve करती है. लेकिन हमारे देश और हमारे राज्य में कुछ ऐसे Crime होते है तो Local Police solve नही कर पाती है.

जो सिलसिलेवार तरीको से क्राइम करते है. उन्हें ढूंढने के लिए केंद और राज्य लेवल पर एक Crimes Investigation Department होती है. बड़े-बड़े आपराधिक मामलों की जांच CID और CBI ही solve करती है. आइये दोनों के बारे में एक एक करके जानते है.

CID का फुल फॉर्म क्या है और सीआईडी क्या होता है?

सीआईडी (CID) का फुल फॉर्म “Crime Investigation Department” होता है. सीआईडी को हिंदी में केंद्रीय जांच ब्यूरो भी कहा जाता है. CID का काम राज्य के अंदर का होता है मतलब की किसी राज्य में कोई भी आपराधिक मामले होती है. जिसे पुलिस से हल नही हो रही होती है तो राज सरकारें उसे सीआईडी (CID) के हाथों में सौप देती है.

CID राज्य की पुलिस का जाँच और खुफिया विभाग होता है. आपको बता दे कि CID की स्थापना आजादी से पहले 1902 में हुई थी. जिस की मैंने बताया है कि CID राज्य में आपराधिक मामले जैसे चोरी, दंगे, अपहरण, हत्या या कोई बड़ी क्राइम को जांच करती है. सभी राज्य के पास अलग-अलग CID ब्रांच होती है.

CID को राज्य सरकार या राज्य की High Court कोई भी मामले की जांच के आदेश देती है. अतः हम कह सकते है कि सीआईडी (CID) राज्य सरकार के अंदर आती है और राज्य राज्य स्तर पर क्राइम को Solve करती है.

CBI का फुल फॉर्म क्या है और सीबीआई क्या होती है?

CBI का फुल फॉर्म “Central Bureau of Investigation” होता है. सीबीआई को हिंदी में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो कहा जाता है.

सीबीआई (CBI) केंद्र सरकार के अंदर काम करती है मतलब की देश मे जब भी आपराधिक और राष्ट्रीय सुरक्षा जुड़ी मामलों को Solve तथा निगरानी करती है. CBI टीम को सन 1941 में स्थापित किया गया था लेकिन इसकी ब्यूरो का नाम और मंत्रालय 1963 को मिला था. CBI को को केंद्र सरकार या High Court तथा Subprime Court किसी भी आपराधिक मामले की जांच के आदेश दे सकती है.

CBI में शामिल होने के लिए विशेष प्रकार का परीक्षण और साथ ही स्कूली शिक्षा के आधार पर होती है. सीबीआई में जॉइन होने के लिए एसएससी तक कि लड़ाई करना अनिवार्य है. साथ ही और भी कई एग्जाम क्लियर करने होते है. इस संस्था में जाने के लिए विशेष प्रकार की ट्रेनिंग दी जाती है.

आइये जानते है कि देश को एक सीबीआई की जरूरत कब पड़ी. आपको बता दे जब द्वितीय विश्व युद्ध खत्म हो गया था तब कर्मचारोयों द्वारा आपराधिक मामला जैसे कि घूसखोरी रिस्वत इत्यादि की जांच की जरूरत हुई थी तभी CBI की गठन की बात आई थी. आइये आगे जानते है दोनों में क्या अंतर है.

CID और CBI में क्या अंतर है?

दोस्तों CID और CBI में बहुत अंतर है क्योंकि CID राज्य सरकार के अंदर आती है और CBI केंद्र सरकार के अंदर आती है.

CID को राज्य सरकार या राज्य की High Court किसी मामले की जांच के आदेश देती है. जबकि CBI को केंद सरकार, हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट किसी भी आपराधिक मामले की जांच के आदेश दे सकती है.

CID राज्य की क्राइम जैसे दंगे, हत्या, चोरी, लूटपाट इत्यादि संवेदनशील मामलों की जांच करती है. CBI देश के किसी भी घूसखोरी रिस्वत इत्यादि की जांच करती है.

पैसे कमाने वाली एप्प के बारे में पूरी जानकरी हिन्दी में
Instagram से पैसे कैसे कमाए हिंदी में
तुरंत रिलीज हुई movies कैसे download करे
Like App से पैसे कैसे कमाए हिंदी में
TikTok से पैसे कैसे कमाए हिंदी में जानिए
10000 के अंदर सबसे बेस्ट स्मार्टफोन कौन सा है?

CID में भर्ती होने के लिए Police में जाना होता है उसके बाद ही CID में जाने का मौका मिलता है. लेकिन CBI में जाने के लिए एसएससी लेवल की एग्जाम देकर इस संस्था में शामिल हो सकते है.

Your Opinion About CID and CBI

आपको अभी CID और CBI का फुल फॉर्म, CBI क्या है, CID क्या है, और CBI और CID से जड़ी सभी जानकारी दे रहे थे. उम्मीद है ये जानकारी आपलोगों को अच्छा लगा होगा. यदि कोई और भी सवाल है सीआईडी और सीबीआई से सम्बन्धित तो हमें जरूर बताएं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here